You can access the distribution details by navigating to My Print Books(POD) > Distribution

ढाई आखर

मानवेन्द्र
Type: Print Book
Genre: Literature & Fiction
Language: Hindi
Price: ₹297 + shipping
This book ships within India only.
Price: ₹297 + shipping

Due to the restrictions in place because of Covid-19 pandemic, Print books are temporarily unavailable.

You can click the button below to get notified once the book is available again.

Description of "ढाई आखर"
ढाई आखर ,काल्पनिक वास्तिवकता पर आधारित ,एक सामान्य ,लगभग शून्य आत्मविश्वास वाले इंजीनियरिंग छात्र साकेत के कॉलेज की सबसे खूबसूरत लड़की से इश्क के सफ़र की कहानी है ।इश्क के सफ़र की मंजिल ,किताबों के पन्नों में गुम होकर तलाशता है साकेत। चम्पू ,चिरकुट जैसे शीर्षकों के बोझ तले दबे साकेत का कूल,और क्यूट में अवतरण होने का सफ़र है,उसका ये इश्क ! किताबों से पूरा इश्क करने वाले साकेत को सृष्टि से सफ़र के पहले मोड़ पर ही इश्क हो गया,पूरा या आधा उसको खुद खबर नहीं, आधे या पूरे की परिभाषा से अलग,ये इश्क साकेत को सृष्टि के संसार में बहुत दूर ले गया। साकेत के लिए इश्क का सफ़र ही उसकी मंजिल है , सृष्टि उसके इस सफ़र में कहाँ तक साथ है, किसी मोड़ तक ,मंजिल तक,या वो सफ़र में है ही नहीं!
About the author(s)
Manvendra is a 1982 born , Aligarh Muslim University educated engineering graduate .he is author cum Engineering Services Officer presently serving Indian Railways.He is passionate about books ,loves paintings and always wears smile. https://www.facebook.com/manvendra.singh.1829405 manvendrairsse@gmail.com
Book Details
Number of Pages: 231
Dimensions: 5"x7"
Interior Pages: B&W
Binding: Hard Cover (Case Binding)
Availability: In Stock (Print on Demand)
Other Books in Literature & Fiction

Shop with confidence

Safe and secured checkout, payments powered by Razorpay. Pay with Credit/Debit Cards, Net Banking, Wallets, UPI or via bank account trasnfer and Cheque/DD. Payment Option FAQs.