You can access the distribution details by navigating to My Print Books(POD) > Distribution

...क्‍योंकि भाषा भी एक फ्रैक्‍टल है

विजेंद्र सिंह चौहान
Type: Print Book
Genre: Computers & Internet
Language: Hindi
Price: ₹225 + shipping
Price: ₹225 + shipping
Due to enhanced Covid-19 safety measures, the current processing time is 8-10 business days.
Shipping Time Extra
About the author(s)

ब्‍लॉगर व स्‍तंभकार विजेंद्र सिंह चौहान हिन्‍दी के शुरूआती ब्‍लॉगरों में से हैं। यूनीकोड-पूर्व युग में उनके संपादन में 'इत्रिका' हिन्‍दी की आरंभिक इंटरनेट पत्रिका थी। इनकी पुस्‍तक 'मीडिया व स्‍त्री:एक उत्‍तर विमर्श' भारतेंदु हरिश्‍चंद्र राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार (भारत सरकार) से सम्‍मानित कृति है। इसके अतिरिक्त कई लेख, शोध आलेख, ईप्रकाशन। डाक्‍टरेट शोध साहित्‍येतिहास पर है तथा पोस्‍ट-डाक्‍टरेट स्‍वतंत्र शोध दिल्‍ली के सिटीस्‍केप में दिक् व काल (टाईम व स्‍पेस) पर है। विजेंद्र ब्‍लॉगजगत में अपने ब्‍लॉगों 'मसिजीवी' व 'हिन्‍दी ब्‍लॉग रिपोर्टर' के लिए जाने जाते हैं। जबकि आफलाइन जीवों के लिए दैनिक जनसत्‍ता में ब्‍लॉगजगत की चर्चा का उनका स्‍तंभ 'चिट्ठाचर्चा' खासा पसंद किया जाता रहा है।
,b>संप्रति: </b>दिल्‍ली विश्‍वविद्यालय के जाकिर हुसैन कॉलेज में हिन्‍दी विभाग में सहायक प्रोफेसर।

Book Details
ISBN: 9788190976770
Number of Pages: 148
Dimensions: 5"x8"
Interior Pages: B&W
Binding: Paperback (Perfect Binding)
Availability: In Stock (Print on Demand)
Other Books in Computers & Internet

Shop with confidence

Safe and secured checkout, payments powered by Razorpay. Pay with Credit/Debit Cards, Net Banking, Wallets, UPI or via bank account trasnfer and Cheque/DD. Payment Option FAQs.