You can access the distribution details by navigating to My pre-printed books > Distribution

सीहोर के दिन (eBook)

स्मृति शेष
Type: e-book
Genre: Biographies & Memoirs
Language: Hindi
Price: ₹0
Buy now
Description of "सीहोर के दिन"
सामान्यत: सभी को अपने बचपन के दिन और उस स्थान से बहूत लगाव रहता है जहां उनका बचपन बीता है चाहे कष्टों मे या कमी मे लेकिन मां, बाप, भाई, बहन और दोस्तों के बीच गुज़रा वह वक्त़ कुछ अलग ही महत्व रखता है। मैं जब मालगुडी डेज़ देखता था तो लगता था जैसे मेरा ही बचपन है और लगभग सभी सामान्य लोगों का वह समय, घूम फिरकर एक जैसा ही होता है। मालगुड़ी डेज़ से ही मुझे प्रेरणा मिली की मैं भी अपने बचपन की कुछ यादें आपके सांथ विशेषकर सीहोर वासियों के सांथ साझा करुं। मुझे आभास है कि इतना उच्च स्तर का और वह भी उपन्यास के रूप मे लेखन तो मेरे द्वारा संभव नही है लेकिन भावनाएं पहूंचाने का एक छोटा सा प्रयास है जिसमे मैने प्रायमरी स्कूलिंग के पूर्व एवं कक्षा आठवीं तक कुछ स्मृतियों को शब्दों मे संजोने का प्रयत्न किया है आशा है आप को भी यह पढ़कर अपने बचपन की यात्रा साझा करने की इच्छा जाग्रत होगी। बचपन का समय लगभग सभी की स्मृति मे बना ही रहता है और कोई घटना, वस्तु, सुगंध, संगीत और दृश्य देखकर उस काल मे हम कुछ क्षण के लिए पहूंच ही जाते हैं।
About the author(s)
अजय कुलकर्णी ने विदिशा इंजिनियरिंग कॉलेज से, अप्लाईड मेथ्स (स्पे. कम्प्यूटर साईंस) मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया है तथा वर्तमान मे राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र, मे वरिष्ठ तकनीकी निदेशक के पद पर कार्यरत हैं। सांथ ही प्रसिद्द तबला वादक भी हैं। इन्होने प्रयाग संगीत समिती से संगीत प्रभाकर भी किया है तथा आकाशवाणी इंदौर एवं कई स्थानो पर बड़े कार्यक्रम भी किये हैं तथा पुरस्कार भी प्राप्त किये हैं । लेखक के तौर पर इनके व्यंग भी समाचार पत्रों मे प्रकाशित हुए हैं। मराठी मे अपने पिता के ऊपर लिखी इनकी कविता “आमुचे दादा खरोखर चे राजा” बहूत सराही गयी है।
Book Details
Number of Pages: 66
Availability: Available for Download (e-book)
Other Books in Biographies & Memoirs

Shop with confidence

Safe and secured checkout, payments powered by Razorpay. Pay with Credit/Debit Cards, Net Banking, Wallets, UPI or via bank account trasnfer and Cheque/DD. Payment Option FAQs.