Ratings & Reviews

दृष्टिकोण

दृष्टिकोण

(5.00 out of 5)

Review This Book

Write your thoughts about this book.

1 Customer Review

Showing 1 out of 1
krishna.dixit.1983 3 years, 4 months ago Verified Buyer

Re: दृष्टिकोण (eBook)

हर कहानी बड़ी सटीक है और सोचने पर मजबूर कर देती है।लेखक को इस प्रयत्न के लिए धन्यवाद।उम्मीद है आगे भी ऐसा साहित्य पढ़ने को मिलेगा ।